Javagal Srinath cricketer Complete information16

जवागल श्रीनाथ (Javagal Srinath) एक पूर्व भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी हैं, जिन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए खेला और विभिन्न अंतरराष्ट्रीय मैचों में अपने दमदार गेंदबाजी के लिए प्रसिद्धी प्राप्त की। उन्होंने अपने कैरियर के दौरान भारतीय क्रिकेट को अनेक महत्वपूर्ण जीतों में मदद की। नीचे उनकी पूरी जानकारी दी गई है:

जन्म और प्रारंभिक जीवन: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • जवागल श्रीनाथ का जन्म 31 अगस्त, 1969 को मैसूर, कर्नाटक, भारत में हुआ था।

क्रिकेट कैरियर: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • श्रीनाथ एक डेडी गेंदबाज होने के साथ-साथ एक खास रूप से उच्च गति वाले गेंदबाज थे।
  • उन्होंने अपने पहले टेस्ट मैच को 1991 में खेला था और वर्गीय क्रिकेट में अपनी मौजूदगी को अदाकारी से दिखाया।
  • श्रीनाथ ने अपनी टेस्ट करियर में कुल 67 मैच खेले, जिनमें उन्होंने 236 विकेट लिए।
  • उन्होंने वनडे अंतरराष्ट्रीय मैचों में भी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, जहाँ उन्होंने 229 मैचों में 315 विकेट लिए।
  • वे बाल्लेबाजी के प्रति अपने प्रवृत्ति के लिए भी जाने जाते हैं और कई बार कठिन परिस्थितियों में महत्वपूर्ण रन बनाए।

Javagal Srinath cricketer Complete information16

Javagal Srinath cricketer Complete information16
Javagal Srinath cricketer Complete information16

उल्लेखनीय उपलब्धियाँ: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • श्रीनाथ ने 2003 में भारतीय क्रिकेट टीम के साथ विश्व कप में भाग लिया और उन्होंने टूर्नामेंट में 16 विकेट लिए।
  • उन्होंने भारतीय क्रिकेट को 1996 में विश्व कप और 2000 में एशिया कप में जीत दिलाई।
  • उन्होंने अपने कैरियर में कई महत्वपूर्ण सीरीजों में भी ब्रिलियंट प्रदर्शन किए, जिनमें उनकी गेंदबाजी ने टीम को जीत दिलाई।

निवृत्ति और अन्य कार्य: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • जवागल श्रीनाथ ने 2003 में अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर को समाप्त कर दिया।
  • निवृत्ति के बाद, उन्होंने क्रिकेट से दूर रहकर विभिन्न शैलीय संग्रहणों में भाग लिया और क्रिकेट की टेलीकॉमेंट्री करने में भी शामिल हों.

जवागल श्रीनाथ का नाम भारतीय क्रिकेट के उन श्रेष्ठ गेंदबाजों में से एक के रूप में सदैव याद किया जाएगा, जिन्होंने अपनी मेहनत और प्रतिबद्धता से क्रिकेट के मैदान में अपनी छाप छोड़ी।

वह एक राइट-आर्म फास्ट गेंदबाज थे और अपनी गेंदबाजी के लिए प्रसिद्ध थे।

उनका अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू 1989 में भारत बनाम पाकिस्तान सीरीज में हुआ था। श्रीनाथ की गेंदबाजी ने उन्हें तेजी और स्थिरता के लिए पहचान दिलाई। उन्होंने अपने करियर में 67 टेस्ट मैच और 229 वनडे अंतरराष्ट्रीय मैच खेले।

जवागल श्रीनाथ का बेहद प्रसिद्ध मोमेंट उनकी गेंदबाजी के साथ 1992 में खेले गए विश्व कप में था, जहाँ उन्होंने 8 मैचों में 16 विकेट लेकर भारतीय टीम की मदद की और टूर्नामेंट को भारतीय टीम की पहली सेमी-फाइनल तक पहुँचाया।

वे बैगलोर टेस्ट से खेले गए अंतरराष्ट्रीय मैच में भारतीय गेंदबाज के रूप में पहली विकेट हासिल करने वाले गेंदबाज बने। उन्होंने वनडे मैचों में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया और उनका खुलासा 1995 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेले गए मैच में 5 विकेट लेने के साथ था।

श्रीनाथ का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास 1996 में हुआ, लेकिन उन्होंने नेशनल क्रिकेट से संन्यास लिया 2003 में। संन्यास के बाद, उन्होंने क्रिकेट से जुड़ी टीवी रिपोर्टिंग और टीम के कोच की भूमिका निभाई।

जवागल श्रीनाथ को भारतीय क्रिकेट के एक महत्वपूर्ण गेंदबाज के रूप में स्मरित किया जाता है जिन्होंने अपनी गेंदबाजी के साथ टीम को कई महत्वपूर्ण जीत दिलाई। Javagal Srinath cricketer Complete information16

Javagal Srinath cricketer Complete information16

Javagal Srinath cricketer Complete information16
Javagal Srinath cricketer Complete information16

जवागल श्रीनाथ (Javagal Srinath) एक पूर्व भारतीय क्रिकेटर हैं जिन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के साथ विभिन्न प्रारूपों में 1991 से 2003 तक अपनी खेली। उन्हें उनके गेंदबाजी और तेज गेंदबाजी के लिए जाना जाता है। निम्नलिखित है उनके बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  1. क्रिकेट की करियर: उन्होंने अपना टेस्ट क्रिकेट डेब्यू 1991 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ किया था। उनका वनडे इंटरनेशनल डेब्यू 1991 में विंडीज के खिलाफ हुआ था। उन्होंने बीच-बीच में कुछ समय के लिए क्रिकेट छोड़ दिया था, लेकिन फिर वापस आकर अपना योगदान देना जारी रखा।
  2. खासियतें: जवागल श्रीनाथ को उनकी तेज और स्वस्थ गेंदबाजी के लिए जाना जाता है। उन्होंने अपने करियर में बाउलिंग के लिए विभिन्न प्रकार की गेंदों का प्रयोग किया, जैसे कि इंस्विंग, आउटस्विंग, फास्ट बॉल आदि।
  3. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट: उन्होंने वनडे और टेस्ट क्रिकेट दोनों में भारतीय टीम के लिए खेला। उन्होंने 67 टेस्ट मैच और 229 वनडे मैच खेले, जिनमें उन्होंने 236 टेस्ट और 315 वनडे विकेट लिए।
  4. उपलब्धियाँ: जवागल श्रीनाथ ने क्रिकेट के क्षेत्र में कई महत्वपूर्ण उपलब्धियाँ हासिल की। उन्हें 1999 क्रिकेट विश्वकप में भारतीय टीम के सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज के रूप में सम्मानित किया गया था।
  5. निवृत्ति: उन्होंने 2003 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया और बाद में क्रिकेट की कुछ अन्य भूमिकाओं में भी योगदान दिया।
  6. आपत्तियाँ: जवागल श्रीनाथ की गेंदबाजी के दौरान कई चोटियाँ हो चुकी हैं, लेकिन वे उन्हें पार करके फिर से मैदान में आने में सफल रहे।
  7. अन्य भूमिकाएँ: श्रीनाथ ने अपनी क्रिकेट की निवृत्ति के बाद क्रिकेट की दुनिया में अन्य भूमिकाओं में भी योगदान दिया है, जैसे कि गेंदबाजी के कोच के रूप में।

जवागल श्रीनाथ (Javagal Srinath) एक पूर्व भारतीय क्रिकेटर हैं जिन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के साथ अपने करियर में महत्वपूर्ण योगदान दिया। वे एक विशेषज्ञ फास्ट बोलर थे और उन्होंने अपने कैरियर में बहुत सारे रिकॉर्ड बनाए। निम्नलिखित हैं उनके बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  1. व्यक्तिगत जीवन: श्रीनाथ की पत्नी का नाम माधुरी है और उनके दो बच्चे हैं।
  2. खेल करियर: श्रीनाथ ने अपने प्रोफेशनल क्रिकेट करियर की शुरुआत 1991 में की थी और 2003 तक विभिन्न अन्तरराष्ट्रीय मैचों में भारतीय टीम के साथ खेलते रहे।
  3. फास्ट बॉलिंग: श्रीनाथ को उनकी तेज गेंदबाजी के लिए जाना जाता है। उनकी बॉलिंग स्पीड काफी उच्च थी और वे बॉल को अच्छी तरह से स्विंग करने के कौशल रखते थे।
  4. रिकॉर्ड: उनके करियर में वे बहुत सारे महत्वपूर्ण रिकॉर्ड बनाए, जिनमें सबसे अधिक विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज का गर्मी रहा।
  5. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट: उन्होंने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर में टेस्ट और वनडे अंतरराष्ट्रीय मैचों में भारत की ओर से खेला।
  6. पुरस्कार: उन्हें भारत सरकार द्वारा अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया, जो उनके योगदान को मान्यता देता है।
  7. रिटायरमेंट: उन्होंने 2003 में अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर को समाप्त किया।

जवागल श्रीनाथ ने भारतीय क्रिकेट को अपने मानकों पर उच्च स्तर पर पहुंचाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया और उन्हें भारतीय क्रिकेट के उन अद्वितीय गेंदबाजों में से एक के रूप में मान्यता प्राप्त है। Javagal Srinath cricketer Complete information16

Javagal Srinath cricketer Complete information16

Javagal Srinath cricketer Complete information16
Javagal Srinath cricketer Complete information16

जवागल श्रीनाथ एक पूर्व भारतीय क्रिकेटर हैं जिन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए खेला है। वह एक प्रशिद्ध फास्ट बॉलर और एक खासकर ओफ-स्पिनर थे।

उनका डेब्यू: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • श्रीनाथ ने अपने टेस्ट क्रिकेट के डेब्यू को 6 जनवरी 1976 को न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलकर किया।
  • उनके वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट का डेब्यू 25 जुलाई 1978 को पाकिस्तान के खिलाफ हुआ था।

क्रिकेट करियर: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • श्रीनाथ ने टेस्ट मैच में 67 मैच खेले और 236 विकेट लिए।
  • उन्होंने वनडे इंटरनेशनल में 146 मैच खेले और 551 विकेट लिए।

महत्वपूर्ण उपलब्धियाँ: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • वह 1983 में भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्य रहे और उनकी मदद से भारत ने पहली बार क्रिकेट वनडे विश्व कप जीता।
  • उन्होंने वनडे इंटरनेशनल में अपने करियर में दो बार हैट्रिक लिया (1985 में इंग्लैंड के खिलाफ और 1991 में न्यूजीलैंड के खिलाफ)।
  • उन्होंने 1985 में इंग्लैंड के खिलाफ एक मैच में 8 विकेट लेकर मैच का मन बनाया और इससे भारत की पहली बार हाउस ऑफ लॉर्ड्स में जीत हुई।

श्रीनाथ के खिलाफ उपलब्धियाँ और सेवाएं: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • उन्होंने 1985 में अर्जुन पुरुष्कार प्राप्त किया।
  • 2011 में, उन्हें भारतीय क्रिकेट के मानदंड संजीव बाझपेयी पुरस्कृत के रूप में चुना गया।
  • उन्होंने भारतीय क्रिकेट संघ (BCCI) में भी महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाई।

पुनर्विचार: जवागल श्रीनाथ क्रिकेट के बारे में अपनी महत्वपूर्ण योगदानों के लिए पहचाने जाते हैं और उन्होंने भारतीय क्रिकेट को एक महत्वपूर्ण और स्थायी स्थान दिलाने में मदद की। Javagal Srinath cricketer Complete information16

Javagal Srinath cricketer Complete information16

Javagal Srinath cricketer Complete information16
Javagal Srinath cricketer Complete information16

क्रिकेटर जवागल श्रीनाथ भारतीय क्रिकेट के प्रमुख खिलाड़ियों में से एक हैं, और उन्होंने अपने कैरियर के दौरान भारतीय क्रिकेट को कई महत्वपूर्ण कृषिप्रद पलों से आभूषित किया। यहाँ पूरी जानकारी दी जा रही है:

क्रिकेट कैरियर: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • श्रीनाथ ने भारतीय क्रिकेट टीम में 1975 में अपने टेस्ट डेब्यू किया था। उनका टेस्ट देब्यू मैच इंग्लैंड के खिलाफ वाघिर, बॉर्ड एंड वॉटस कप में खेला गया था।
  • उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 67 मैच खेले और 236 विकेट लिए। उनकी बॉलिंग में धारावाहिकता और सटीकता के कारण वे भारतीय क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ फास्ट बॉलरों में से एक माने जाते हैं।
  • उन्होंने वनडे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भी 75 मैच खेले और 88 विकेट लिए।
  • उन्होंने अपने कैरियर के दौरान कई महत्वपूर्ण क्रिकेट टूर्नामेंट्स और सीरीज खेले, जिनमें उनका योगदान महत्वपूर्ण रहा।

उपलब्धियाँ और सम्मान: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • श्रीनाथ का नाम भारतीय क्रिकेट के इतिहास में महत्वपूर्ण स्थान रखता है। उन्हें उनके बॉलिंग कौशल और योगदान के लिए ‘भारतीय क्रिकेट के सफेद बॉलर’ के रूप में सम्मानित किया गया।
  • उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्य के रूप में कई महत्वपूर्ण खिलाड़ियों के साथ खेला, जैसे कि सुनील गावस्कर, कपिल देव, आदि।
  • उन्हें 1983 में भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्य के रूप में पहली बार वनडे विश्व कप जीतने में महत्वपूर्ण योगदान दिया था।

निवृत्ति और आज का कार्य: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • श्रीनाथ ने अपने क्रिकेट कैरियर के बाद एक प्रमुख क्रिकेट टीम के कूच के रूप में भी काम किया है, जिसमें वे युवा खिलाड़ियों को प्रशिक्षित करते थे।
  • उन्होंने भारतीय बोर्ड के साथ भी विभिन्न प्रमुख भूमिकाओं में काम किया है।

यह थी क्रिकेटर जवागल श्रीनाथ की संक्षिप्त जानकारी। उनके महत्वपूर्ण योगदान और क्रिकेट के क्षेत्र में उनकी महत्वपूर्ण भूमिकाओं के कारण, उन्हें भारतीय क्रिकेट के एक महत्वपूर्ण संदर्भ के रूप में याद किया जाता है।

जवागल श्रीनाथ, भारतीय क्रिकेट के पूर्व खिलाड़ी और उपनगर बने बॉलर थे। वे मुख्य रूप से 1980 और 1990 के दशक में भारतीय क्रिकेट टीम के हिस्से रहे हैं। Javagal Srinath cricketer Complete information16

Javagal Srinath cricketer Complete information16

Javagal Srinath cricketer Complete information16
Javagal Srinath cricketer Complete information16

मुख्य जानकारी: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  1. प्रारंभिक जीवन: जवागल श्रीनाथ का बचपन से ही क्रिकेट में रुचि दिखाई और उनका पहला इंटरनेशनल मैच 1975 में हुआ था।
  2. क्रिकेट करियर: श्रीनाथ एक अच्छे फास्ट बॉलर थे और वे उनमें से एक थे जिन्होंने भारतीय क्रिकेट को विश्व मानक क्रिकेट में मान्यता दिलाई। उनकी पहचान उनके लम्बे और आकर्षक दाँतों से भी बनी थी। उन्होंने अपने करियर में टेस्ट मैच में 236 और वनडे इंटरनेशनल मैच में 146 विकेट लिए।
  3. कृपाणि श्रीनाथ: जवागल श्रीनाथ की उनकी बॉलिंग स्टाइल की एक विशेषता यह थी कि वे उन्हें ‘कृपाणि’ नाम से भी जाना जाता था। इसका मतलब था कि उनकी बॉलिंग अच्छे कोनों पर आती थी और वे विकेट पर वापस लौट सकते थे।
  4. कप्तानी: श्रीनाथ ने भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी भी की थी। वे 1983 में खेले गए वनडे विश्व कप में भारतीय टीम के कप्तान रहे थे, लेकिन टीम को सेमीफाइनल तक पहुंचाने में सफल नहीं हो सके।
  5. अन्य जानकारी: श्रीनाथ ने अपने क्रिकेट करियर के बाद उपनगर में भी अपनी गोल्फ करियर बनाई।

क्रिकेट करियर: जवागल श्रीनाथ एक बांधव गेंदबाज थे और उन्होंने अपने बॉवलिंग स्किल्स के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने अपने करियर के दौरान बहुत सारे मैचों में भारतीय टीम के लिए खेला और विशेष रूप से ओडी और टेस्ट क्रिकेट में उनकी गेंदबाजी का जलवा दिखाया।

महत्वपूर्ण उपलब्धियाँ: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • जवागल श्रीनाथ ने अपने करियर में टेस्ट क्रिकेट में 67 मैच खेले और उन्होंने 236 विकेट लिए।
  • उन्होंने ओडी क्रिकेट में भी 229 मैच खेले और 315 विकेट लिए।
  • उन्होंने 1992 में अपने टेस्ट डेब्यू किया और 2003 में क्रिकेट से संन्यास लिया।
  • उन्होंने क्रिकेट विश्वकप 1996, 1999 और 2003 में भारतीय टीम का हिस्सा बनाया।
  • उन्होंने क्रिकेट के अलावा एक समय के लिए ICC के मेच रेफरी के रूप में भी काम किया।

अन्य जानकारी: Javagal Srinath cricketer Complete information16

  • उन्होंने अपने करियर में कई बार घायल होने के बावजूद बॉलिंग करने की बड़ी मेहनत की और मैचों में प्रदर्शन दिया।
  • जवागल श्रीनाथ को उनकी उच्च गेंदबाजी के लिए “भारतीय ग्लेन मैग्राथ” के रूप में भी जाना जाता था।

निवृत्ति: क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद, उन्होंने बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड) के बोर्ड में भी कुछ समय तक काम किया।

जवागल श्रीनाथ भारतीय क्रिकेट के महत्वपूर्ण नामों में से एक थे और उनका योगदान भारतीय क्रिकेट के विकास में महत्वपूर्ण रहा है।

Ajit Agarkari cricketer Complete information14

wikipedia