Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

सुनील मानोहर गावस्कर भारतीय क्रिकेट के एक प्रमुख प्रतिनिधि थे और उन्हें ‘सन्नी’ के नाम से भी जाना जाता है। वे 10 जुलाई 1949 को मुंबई, महाराष्ट्र में पैदा हुए थे। गावस्कर एक विशेषज्ञ बैट्समन थे और वे अपने उद्घाटन टेस्ट मैच में ही सेंचुरी में दोहरी सेंचुरी बनाकर चर्चा में आए थे।

उनका प्रोफेशनल क्रिकेट करियर: Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

  1. टेस्ट क्रिकेट: सुनील गावस्कर ने भारतीय टेस्ट टीम के लिए 1971 से 1987 तक खेला। उन्होंने कुल 125 टेस्ट मैच खेले और 10,122 रन बनाए।
  2. वनडे इंटरनेशनल: गावस्कर ने वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में भारतीय टीम का हिस्सा नहीं बनाया, क्योंकि उनकी खेलने की शैली वनडे क्रिकेट के साथ बेहद मेल नहीं खाती थी।
  3. रिकॉर्ड्स: उनकी कैरियर में कई रिकॉर्ड्स हैं, जिनमें सबसे महत्वपूर्ण रिकॉर्ड उनके टेस्ट क्रिकेट में 34 शतकों का है। वे अपने समय के सर्वोत्तम बैट्समन माने जाते हैं और उन्होंने विश्व कप, चैम्पियंस ट्रॉफी जैसे बड़े टूर्नामेंट में भी भारत की ओर से खेला।
  4. कप्तानी: उन्होंने भारतीय टेस्ट टीम की कप्तानी भी की थी और भारत को 47 टेस्ट मैचों में कई महत्वपूर्ण जीत दिलाई।
  5. पेंसन: सुनील गावस्कर 1987 में क्रिकेट से सन्यास ले लिया था और उन्हें भारतीय क्रिकेट की दुनिया में महत्वपूर्ण व्यक्तित्व माना जाता है।
  6. क्रिकेट के बाद: क्रिकेट से रिटायर होने के बाद, गावस्कर ने क्रिकेट के प्रति अपनी महत्वपूर्ण रुचि को बनाए रखते हुए कमेंट्री और क्रिकेट विशेषज्ञ के रूप में काम किया है।

सुनील गावस्कर ने भारतीय क्रिकेट को अपने उन्नत प्रदर्शनों से प्रेरित किया और उनका योगदान भारतीय क्रिकेट की विकास यात्रा में महत्वपूर्ण रहा। Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

Sunil Gavaskar cricketer Complete information01
Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

सुनील मानोहर गावस्कर, जिन्हें सदियों के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटरों में गिना जाता है, एक पूर्व भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी हैं। उन्होंने अपने खिलाड़ी करियर के दौरान भारतीय क्रिकेट को एक नये मानक पर उठाया और उन्हें ‘गर्व नस्तलीकर’ के नाम से भी जाना जाता है। नीचे उनकी महत्वपूर्ण जानकारी दी गई है: Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

  • परिवार: उनके पिता का नाम मानोहर गावस्कर था, जो भी एक प्रमुख क्रिकेटर थे। उनके छोटे भाई आजीत गावस्कर भी प्रसिद्ध क्रिकेटर रहे हैं।
  • क्रिकेट करियर: सुनील गावस्कर ने 1971 में अपने टेस्ट क्रिकेट के डेब्यू के साथ ही एक बड़ा उपहार भारतीय क्रिकेट को दिलाया, जब उन्होंने पहले इनिंग्स में 774 रन बनाए और भारत को वेस्टइंडीज के खिलाफ जीत दिलाई। उनकी खेलने की शैली उन्हें एक सोलिड और दृढ़ बल्लेबाज बनाती थी जो उन्हें क्रिकेट की दुनिया में महत्वपूर्ण स्थान पर लाती थी।
  • उपलब्धियाँ: उनकी करियर में कई महत्वपूर्ण उपलब्धियाँ हैं। वे पहले खिलाड़ियों में से एक थे जिन्होंने टेस्ट मैचों में 10,000 से अधिक रन बनाए और 30 से अधिक शतक जमाए।
  • कैरियर की अवसाद: उनके करियर में अवसाद के समय भारतीय क्रिकेट को मानसिक आत्महत्या के संकेत की बात हो रही थी। गावस्कर ने इस समय में भारतीय टीम के प्रमुख बनकर उन्हें सहारा दिया और उन्होंने इस दिक्कत को पार करने के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया।
  • कप्तानी: सुनील गावस्कर ने भारतीय टीम की कप्तानी भी की थी, लेकिन उनकी कप्तानी करियर में उनका प्रदर्शन ज्यादा सफल नहीं रहा।
  • संघर्ष और महत्वपूर्ण सामर्थ्य: गावस्कर ने अपार सामर्थ्य और उत्कृष्टता के साथ क्रिकेट की दुनिया में अपनी जगह बनाई। उन्होंने उन समयों में विदेशी पिचों पर भारतीय बल्लेबाजों के लिए मार्गदर्शन किया जब यह किसी भी बल्लेबाज के लिए आसान नहीं था।
  • सेलेब्रिटी और कमेंट्री: खिलाड़ियों के अलावा, सुनील गावस्कर एक प्रसिद्ध क्रिकेट कमेंटेटर भी हैं और उन्होंने क्रिकेट के माध्यम से अपने बोलने की कला को प्रदर्शित किया।
  • पुरस्कार और सम्मान: उन्हें 1983 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया और 2012 में उन्हें भारतीय क्रिकेट को “रत्न” से सम्मानित किया गया, जो भारत के सबसे उच्च नागरिक सम्मानों में से एक है।
  • विराम: सुनील गावस्कर ने 1987 में अपने खिलाड़ी करियर को समाप्त किया।

सुनील गावस्कर ने भारतीय क्रिकेट को अपने योगदान से नई ऊँचाइयों तक पहुंचाया और उन्हें एक विश्व स्तरीय खिलाड़ी के रूप में पहचान दिलाई। उनका खेलने का तरीका और मानसिकता आज भी क्रिकेट के नए पीढ़ियों के लिए प्रेरणास्त्रोत है। Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

Sunil Gavaskar cricketer Complete information01
Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

सुनील गावस्कर का खेलने का शौक बचपन से ही था, और उन्होंने 1971 में भारतीय क्रिकेट टीम में अपना डेब्यू किया। उनकी खेलने की शैली को ‘गावस्करियन ग्रिन्ड’ के नाम से जाना जाता है, जिसमें वे पारंपरिक और स्थिर खेलने की दिशा में अपने आप को साबित करते थे। उन्होंने विभिन्न अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के खिलाफ बहुत सारे स्कोर बनाए और उनकी क्रिकेट करियर में कई बड़े कीर्तिमान हासिल किए।

निम्नलिखित हैं सुनील गावस्कर के महत्वपूर्ण पूर्णकालिक रिकॉर्ड: Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

  1. उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में कुल 10,122 रन बनाए थे, जिसमें 34 शतक (सेंचुरी) और 45 अर्धशतक (हाफ-सेंचुरी) शामिल थे।
  2. उन्होंने वनडे इंटरनेशनल मैच में 3092 रन बनाए थे, जिसमें 1 शतक और 27 अर्धशतक शामिल थे।
  3. उन्होंने 1983 में भारतीय क्रिकेट टीम को पहली बार वनडे विश्व कप का खिताब दिलाया था।
  4. उन्होंने 1986 में विश्व एलबीडी कप का हिस्सा बना था, जिसमें उन्होंने 3 अर्धशतक बनाए थे।
  5. उन्होंने क्रिकेट को अपने लेखन के माध्यम से भी प्रचारित किया और उनकी किताबें क्रिकेट और स्पोर्ट्स से संबंधित हैं।
  6. उन्हें 2014 में भारत सरकार द्वारा पद्मभूषण से सम्मानित किया गया था।

गावस्कर के क्रिकेट करियर के बाद, उन्होंने क्रिकेट की दुनिया में एक लोकप्रिय टीवी कमेंटेटर और क्रिकेट विशेषज्ञ के रूप में भी अपनी छाप छोड़ी है।

Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

Sunil Gavaskar cricketer Complete information01
Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

सुनील मानोहर गावस्कर एक पूर्व भारतीय क्रिकेटर हैं जिन्हें “शेर दिल्ली” के नाम से भी जाना जाता है। वह भारतीय क्रिकेट के इतिहास में महत्वपूर्ण और प्रमुख खिलाड़ियों में से एक हैं। उन्होंने अपने कैरियर के दौरान विभिन्न महत्वपूर्ण क्रिकेट सर्वों की रिकॉर्डों को छूने का गर्व किया है। निम्नलिखित है सुनील गावस्कर के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी: Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

  1. पूरी जीवनी: उनका पूरा नाम सुनील मानोहर गावस्कर है। उनके पिता का नाम मानोहर गावस्कर था, जिन्होंने भी भारतीय क्रिकेट में खेला था।
  2. क्रिकेट कैरियर: सुनील गावस्कर ने अपने क्रिकेट करियर में 1971 से 1987 तक भारतीय टीम के लिए खेला। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 125 मैच खेले और 34 शतक बनाए। उनका शतक स्कोर 10,122 रनों पर हुआ, जिससे वे उन दिनों के लिए भारत के सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ियों में थे।
  3. कप्तानी: सुनील गावस्कर ने भारतीय टीम की कप्तानी भी की थी। वे पहले भारतीय कप्तान थे जिन्होंने भारतीय टीम को वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में नेतृत्व किया था।
  4. रिकॉर्ड्स और उपलब्धियाँ: सुनील गावस्कर ने अपने करियर में कई महत्वपूर्ण रिकॉर्ड बनाए, जिनमें से कुछ निम्नलिखित हैं:
    • उन्होंने 1983 में वनडे विश्व कप के पहले मैच में वनडे इंटरनेशनल शतक बनाया था।
    • 1987 में, उन्होंने आखिरी टेस्ट मैच खेलकर अपने क्रिकेट करियर को समाप्त किया।
    • उन्होंने 1971 में इंग्लैंड के खिलाफ अपने टेस्ट डेब्यू किया था और तुरंत एक शतक बनाया था, जिससे उन्हें “शतक किंग” का उपनाम प्राप्त हुआ।
  5. पदक और सम्मान: सुनील गावस्कर को 1980 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था, जो भारत सरकार द्वारा दिया गया एक महत्वपूर्ण सिविल योजना है।

गावस्कर का क्रिकेट करियर: Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

  • सुनील गावस्कर ने अपने करियर के दौरान भारतीय टेस्ट टीम के हिस्से के रूप में 1971 से 1987 तक खेला।
  • उन्होंने कुल मिलाकर 125 टेस्ट मैच खेले और इनमें 10,122 रन बनाए।
  • उन्होंने 34 शतक बनाए जिसमें से पहले शतक 166 रनों का था, जो उनके पहले टेस्ट मैच में था।
  • उनका औसत 51.12 रन प्रति इनिंग्स था।

महत्वपूर्ण उपलब्धियाँ: Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

  • गावस्कर ने 1983 में भारतीय क्रिकेट टीम के साथ पहले वनडे विश्व कप में भाग लिया और उनकी अद्वितीय प्रदर्शन ने टीम को फाइनल तक पहुँचाया।
  • उन्होंने 1985 में वेस्टइंडीज के खिलाफ मुंबई में खेले गए एक टेस्ट मैच में 236 रन बनाए, जो उनका सर्वोत्तम स्कोर था।
  • उन्हें 1980 में पद्मश्री और 2012 में पद्मभूषण से सम्मानित किया गया।

कमेंटेटिंग करियर: Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

  • सुनील गावस्कर के क्रिकेट करियर के बाद, उन्होंने कमेंट्री में भी अपने योगदान दिए।
  • उन्होंने क्रिकेट के मैचों की टीवी पर लाइव कमेंट्री की और वे एक प्रसिद्ध और आदरणीय कमेंटेटर बने।

सुनील गावस्कर भारतीय क्रिकेट के महान खिलाड़ियों में से एक हैं और उनका योगदान भारतीय क्रिकेट के विकास में महत्वपूर्ण रहा है।

सुनील मानोहर गावस्कर, जिन्हें सामान्यत: “सनी” के नाम से जाना जाता है, भारतीय क्रिकेट के पूर्व खिलाड़ी और क्रिकेट के उपन्यासकार हैं। उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम में 1971 से 1987 तक खेला और कप्तानी भी की। उन्होंने अपने खिलाड़ी करियर में कई रिकॉर्ड बनाए और भारतीय क्रिकेट को नए ऊंचाइयों तक पहुँचाया।

Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

Sunil Gavaskar cricketer Complete information01
Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

नीचे सुनील गावस्कर के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी दी गई है: Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

  1. पूरा नाम: सुनील मानोहर गावस्कर
  2. क्रिकेट करियर: सुनील गावस्कर एक बाएं हाथ के बैट्समैन थे और वे बैटिंग के क्षेत्र में एक उत्कृष्ट खिलाड़ी थे। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 34 शतक बनाए और अपने करियर में 10,122 रन बनाए।
  3. पहला टेस्ट मैच: उनका पहला टेस्ट मैच 1971 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला गया था, जिसमें उन्होंने अपने पहले टेस्ट मैच में ही शतक बनाया।
  4. कप्तानी: सुनील गावस्कर ने भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी भी की और उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 47 मैचों में कप्तानी की।
  5. अन्य जानकारी: सुनील गावस्कर को ‘लिटिल मास्टर’ का उपनाम दिया गया था और वे विश्व कप क्रिकेट में भारतीय टीम के सदस्य भी रहे।
  6. रिकॉर्ड्स: उनके पास कई विश्व रिकॉर्ड हैं, जिनमें सबसे बड़ा है – 34 शतकों का रिकॉर्ड।
  7. क्रिकेट के बाद: संन्यास लेने के बाद, सुनील गावस्कर क्रिकेट से दूर नहीं रहे और उन्होंने कमेंट्री करियर में भी अपने अद्वितीय ज्ञान का प्रदर्शन किया।
  8. लेखन: सुनील गावस्कर के क्रिकेट के साथ-साथ उनके लेखन कौशल के बारे में भी जाना जाता है। उन्होंने कई किताबें लिखी हैं और वे क्रिकेट के उपन्यासकार के रूप में भी मशहूर हैं।
  9. सम्मान: सुनील गावस्कर को 1983 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था।
  10. विशेषताएँ: सुनील गावस्कर को उनकी बैटिंग की स्थिरता, उनकी शतकों की भारी संख्या, और विश्व बैटिंग रिकॉर्ड्स के लिए याद किया जाता है।

Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

Sunil Gavaskar cricketer Complete information01
Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

सुनील मानोहर गावस्कर एक पूर्व भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी और क्रिकेट के ज्ञात चेहरों में से एक हैं। उन्होंने अपने खिलाड़ी जीवन के दौरान भारतीय क्रिकेट को कई महत्वपूर्ण योगदान दिए हैं। निम्नलिखित हैं सुनील गावस्कर की मुख्य जानकारी: Sunil Gavaskar cricketer Complete information01

  1. खिलाड़ी जीवन: सुनील गावस्कर ने अपना टेस्ट क्रिकेट डेब्यू वेस्ट इंडीज के खिलाफ 1971 में किया था। उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के साथ 125 टेस्ट मैच और 108 वनडे अंतरराष्ट्रीय मैच खेले। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 10,122 रन बनाए और 34 शतक जड़े।
  2. बल्लेबाजी का शौकीन: सुनील गावस्कर को उनकी श्रद्धांजलि उनकी श्रद्धांजलि बल्लेबाजी की दिशा में मिलती है। उन्होंने खुद को एक गेंदबाज से बल्लेबाज में परिणित किया और विशेष रूप से टेस्ट क्रिकेट में उनकी बल्लेबाजी अद्वितीय थी।
  3. शतकों का राजा: सुनील गावस्कर ने अपने टेस्ट क्रिकेट करियर में 34 शतक बनाए, जिसमें 10,122 रन शामिल हैं। उन्होंने 1983 में इंग्लैंड के खिलाफ बनाए गए 101 रन के शतक के साथ क्रिकेट विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम की कमाल की साझा की थी।
  4. क्रिकेट विशेषज्ञ: गावस्कर को क्रिकेट के क्षेत्र में उनकी ज्ञानवर्धन की दृष्टि से मान्यता मिली है। उन्होंने क्रिकेट के विभिन्न पहलुओं पर अपने विचार प्रकट किए और क्रिकेट जगत में एक प्रमुख व्यक्ति के रूप में उनकी पहचान बनी।
  5. कप्तानी: सुनील गावस्कर ने भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी भी की थी। उन्होंने भारतीय टीम को 47 टेस्ट मैचों में कप्तानी की और 14 वनडे अंतरराष्ट्रीय मैचों में भी कप्तान रहे।
  6. पुरस्कार और सम्मान: सुनील गावस्कर को भारत सरकार द्वारा पद्म भूषण से सम्मानित किया गया है, जो भारतीय सिविल समाज में उनके महत्वपूर्ण योगदान को पहचानता है।
  7. रिटायरमेंट और बाद का जीवन: सुनील गावस्कर ने अपने खिलाड़ी जीवन के बाद क्रिकेट के क्षेत्र में कमेंट्री और क्रिकेट एक्सपर्ट के रूप में अपनी पेशेवरी दिखाई।

सुनील गावस्कर का नाम भारतीय क्रिकेट के स्थायी हिस्से के रूप में है और उनकी खिलाड़ी जीवनी और क्रिकेट जगत में उनके योगदान को समर्थन और प्रेरणा मिलती है।

Mahendra Singh Dhoni cricketer Complete information07

wikipedia